top of page

Kahani- भगवान को अर्जी

यह कहानी मेने कुछ समय पहले एक सोशल साइट पर पढ़ी थी यह एक मार्मिक कहानी है एक छोटी बच्ची की जिसकी नाहन मर चुकी है और मां की मृत्यु होने वाली है



Kahani- भगवान को अर्जी, यह कहानी मेने कुछ समय पहले एक सोशल साइट पर पढ़ी थी यह एक मार्मिक कहानी है एक छोटी बच्ची की जिसकी नाहन मर चुकी है और मां की मृत्यु होने वाली है, story in hindi,hindi kahani,kahani
Kahani- भगवान को अर्जी

Kahani भगवान को अर्जी


मैं एक दुकान पर खरीददारी कर रहा था तब भी मैंने दुकान के कैशियर को एक 5-6 साल की लड़की से बात करते हुए देखा।कैशियर बोला माफ करना बेटी लेकिन इतने से पैसे में यह गुड़िया नहीं खरीदी जा सकती यह पैसे बहुत कम है।


प्राथमिकी वह लड़की पलट कर मेरी तरफ देखने लगी और मुझसे पूछा अंकल क्या सच में या पैसे बहुत कम है इसमें यह गुड़िया नहीं ए सकती।


मैंने वह बच्चे के हाथ से पैसे लिए और उनको कि ना तो वह पैसे सच में कम द तो मैंने कहा बेटा यह पैसे इस गुड़िया के लिए बहुत कम है।


वह छोटी लड़की गुड़िया को हाथ में लेकर बार-बार देख रही थी वह गुड़िया को छोड़ नहीं रहे तो मैंने उससे पूछा बेटा तुम्हें यह गुड़िया किसको देना है?


छोटी बच्ची ने बताया वह इस गुड़िया को अपनी छोटी बहन को गिफ्ट में देना चाहता है क्योंकि उसका जन्मदिन है उसकी छोटी बहन बहुत प्यारी है यह कहते कहते उसकी आंखों में पानी गया वह बो बोली उसकी छोटी बहन के घर गई है और मेरी मम्मी पापा कहते हैं कि मेरी मम्मी भी बहुत जल्दी भगवान के घर चहाने वाली है तो जब वह उससे मिलेगी तो मुझे गुड़िया अपने साथ ले जाएगी और मेरी छोटी बहन को दे देंगे।


एक पल के लिए मेरा दिल धड़कता रह गया एक ही लाइन में इस्तेमाल बच्ची ने यह सारी बात बोल दी थी और मुझे देख कर बोली मैंने मम्मी को कहा है कि अभी थोड़ी देर रुकना मेरा इंतजार करना मैं अपनी बहन के लिए एक तोफा लेकर आती हूं हमें गुड़िया बहुत पसंद है।मैं अपनी मम्मी को बहुत प्यार करती हूं मैं नहीं चाहती मेरी मम्मी मुझे छोड़ कर जाए पर पापा कहते हैं मेरी बहन बहुत छोटी है उसको मां की ज्यादा जरूरत है इसलिए मम्मी को उसके पास जाना पड़ेगा क्योंकि वह बहुत ज्यादा छोटी है मुझसे भी छोटी।


इतना बोल कर वह लड़की फिर से गुड़िया की तरफ देखने लगी उसकी आंखों में हल्की नमी थी।

मैंने लड़की को फिर से बोला शायद मुझसे जीने में गलती हो गई एक बार वापस पैसे दो तो मैं एक बार वापस गिनती करता हूं।


पैसे तो कम द तो मैंने अपने पर से कुछ पैसे उसमें मिला दिए और फिर उसके सामने पैसे को गिनाना शुरू किया क्या बार पैसे पूरा है यहां की कुछ पैसे ज्यादा ही हो रहे


लड़की ने खुश होने का भगवान का शुक्रिया उन्हें मुझे इतने सारे पैसे दे दिए और आगे बोली कल रात को सोने से पहले मैं भगवान से प्रार्थना कर रही थी भगवान मुझे गुड़िया खरीदने के लिए पैसे देना तकी यह गुड़िया मेरी मम्मी मेरे बहन के लिए ले जा खातिर और मैं मम्मी के लिए एक सफेद गुलाब भी खरीदना चाहती थी और भगवान ने मुझे उसके लिए भी पैसे दे दिए अब इन एक्स्ट्रा पैसे से मैं सफेद गुलाब ख़रीद दूंगी मेरी मम्मी को सफेद गुलाब बहुत पसंद है।


फिर हम लोग दुकान से निकल गए लेकिन मेरे दिमाग से यह घटना निकल नहीं पर रही थी। मैंने दो-चार दिन पहले अखबार में पढ़ा तो उसकी एक शराबी ट्रक ड्राइवर ने नशे की हालत में मोबाइल पर बात करते हुए एक कार को टक्कर मार दी थी जिस से एक 3 साल की बच्ची की घटनस्थल पर कि मृत्यु हो गई थी और कर चालक महिला भी कोमा में चली गई थी अब उपयोग करें परिवार को एक बहुत महत्त्वपूर्ण निर्णय लेना था कि यह तो महिला को जीवन रक्षक मशीनों के सहारे जीवित राखा जाए लेकिन उसके कोमा से बहार आने की संभावना बहुत कम थी महिला के दोनों पैर एक हाथ और आधा चेहरा खराब हो चूका था उसकी आंखें भी जा चुकी थी ऐसी हाल में उसको जीवन रक्षक मशीनरी के सहारा जीवित रखने का कोई मतलब नहीं था क्या यह बच्ची उसी परिवार की लड़की थी मेरी आत्मा काप उठी।

दो दिन बाद मैंने अखबार में एक और खबर पड़ी हदसे में घायल महिला को बचाया नहीं जा सका मैं स्वयं को रोक नहीं सका और अखबार से पता पढ़ाकर घर पर पहुंच गया वहां महिला को अंतिम दर्शन के लिए रखा हुआ था


महिला को वहां लिटा रखा था सफेद कपड़ों में उसके हाथ में वही सफेद गुलाब था और एक छोटी सी बच्ची का हंसता हुआ फोटो था पास में वह गुड़िया रखी हुई थी मेरी आंखों से आंसू बह निकले हलंकी मेरा इस महिला से और बच्ची से कोई वस्ता नहीं था लेकिन फिर भी खुद को संभलना मुश्किल हो रहा था उसे नहीं लड़की का अपनी छोटी बहन और मां के लिए बेपनाह प्यार में यहां इन शब्दों में बयान नहीं कर सकता।


ऐसे में एक शराबी चालक की लापारवाही के करण मात्र एक क्षण में मासूम लड़की का सब कुछ छिन लिया ऐसी घटनाएं रोज पता नहीं कितनी ही होती है


मैं बस यही पैगम देना चाहता हूं कि कभी भी शारब पिकर या मोबाइल पर बात करते हुए वहां न चलें क्योंकि आपकी छोटी सी गलती किसी के लिए श्राप बन सकती है धन्यवाद।


Viral trends पर आज की कहानी Kahani भगवान को अर्जी Story in hindi ये कहानी लोगो मैं सामाजिक जागरुकता लाने के लिए हैं, desi kahani और प्रेरणादायी हिंदी कहानी हमें बहुत पड़ी है आज एक सामाजिक सरोकार वाली कहानी पड़ती है.

Recent Posts

See All

1 Comment


manjubairwa630
manjubairwa630
Apr 14, 2023

Good story....👍👍 you write very well 👌👌 keep it up 👏

Like
bottom of page